mediapanchayat

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

हैलो-हैलो, रुको-रुको! यहां एसएसबी है

Sun Aug 9 , 2020
मीडियापंचायत न्यूज़ नेटवर्क/महराजगंज: (धर्मेंद्र चौधरी की रिपोर्ट) तस्करों ने भारत-नेपाल बार्डर पर तैनात सुरक्षा एजेंसियों से बचने के लिए ‘रेकी’ का रास्ता अपनाया है। तस्कर इसे अपनी भाषा में “लाईन देखना” कहते हैं। दर्जनों की संख्या में युवक मोबाइल फोन लेकर सरहद से लगाए तस्करी के सामानों के गोदाम तक […]

Breaking News