तो क्या करमहवा गांव में हुई मारपीट-मौत का कारण था एसडीएम नौतनवा का एक आदेश?

मीडिया पंचायत न्यूज़ नेटवर्क/ नौतनवा/ महराजगंज:

महराजगंज जिले के हिंदू युवा वाहिनी संगठन के जिलाध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्य नरसिंह पांडेय ने कई गंभीर आरोप लगाए हुए एसडीएम नौतनवा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। जिलापंचायत के तौर पर एक शिकायती पत्र मुख्यमंत्री के पास भेजते हुए एसडीएम के क्रिया कलापों के जांच की मांग की है।
भेजे गए शिकायती पत्र में नौतनवा तहसील क्षेत्र के करमहवा गांव के भूमि विवाद का जिक्र है। जिस विवाद में भीषण मारपीट हुई थी जिसमें रामभरत पुत्र भिखारी की मौत भी हो गई थी।
आरोप है कि 16 जनवरी वर्ष 2020 को एसडीएम द्वारा जारी एक आदेश विवाद का कारण बना और वह आदेश एसडीएम द्वारा सुविधा शुल्क लेकर न्यायालय हड़ताल के दिन जारी किए।

एक बड़े संगठन के पदाधिकारी व जनप्रतिनिधि के रूप में भेजे गए उक्त शिकायती पत्र ने कई अहम सवाल खड़े कर दिए हैं। क्या सचमुच करमहवा गांव में हुई मारपीट व मौत की वजह एसडीएम का आदेश रहा? जैसा कि आरोपी है। हालांकि एसडीएम नौतनवा सारे आरोपों को सिरे से खारिज कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

स्कूल हथियाने की साजिश कर रहे गोरखा समाज के कुछ लोग : अमर बहादुर थापा

Fri Jul 24 , 2020
फ़ोटो- गोरखा भूतपूर्व सैनिक स्कूल विवाद प्रकरण में धर्मेंद्र चौधरी के सवालों का जवाब देते अमर बहादुर थापा। मीडिया पंचायत न्यूज़ नेटवर्क: महराजगंज जिले के नौतनवा कस्बा में स्थित गोरखा भूतपूर्व सैनिक स्कूल काफी दिनों से स्कूल मैनेजमेंट विवाद को लेकर काफी चर्चा में है। इधर विवाद काफी गहराता जा […]