प्रधानमंत्री आदरणीय श्री नरेन्द्र मोदी जी के जन्मदिवस के उपलक्ष में “महिला काव्य मंच ” झारखंड प्रदेश की सभी 7इकाईयों ने सम्मिलित ऑनलाइन विशिष्ट काव्य गोष्ठी की

प्रधानमंत्री आदरणीय श्री नरेन्द्र मोदी जी के जन्मदिवस के उपलक्ष में “महिला काव्य मंच ” झारखंड प्रदेश की सभी 7इकाईयों ने सम्मिलित ऑनलाइन विशिष्ट काव्य गोष्ठी की

शुक्रवार 16 सितंबर अपराह्न 3 बजे से महिला काव्य मंच के द्वारा ऑनलाइन काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया महिला काव्य मंच के संस्थापक आ .नरेश नाज जी के निर्देशानुसार ,आ. मोना बग्गा ‘दिशा’ जी की अध्यक्षता में किया गया,जो कि विशेष रूप से समर्पित थी, गोष्ठी में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल रही ,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आ. सारिका भूषण जी,जिन्होंने मंत्रोचारण से गोष्ठी का शुभारंभ किया,साथ ही अपनी शुभकामनाएं और बधाइयां मोदी जी को प्रेषित की तथा प्रतिभागियों को शुभकामनाएं और आशीर्वचन के पुष्प समर्पित किए शोभा किरण के संचालन में कार्यक्रम आगे बढ़ा, आ .सुरिंदर कौर नीलम जी ने अपनी मधुर कंठ में आदरणीय नरेश नाज जी की लिखी सरस्वती वंदना का सस्वर पाठ किया विशिष्ठ अतिथि के रूप में आ सुरिंदर कौर नीलम जी और अर्चना अश्क मिश्रा जी पूरे समय कार्यक्रम में रह कर प्रतिभागियों का उत्साह बढ़ाती रही इस गोष्ठी में झारखंड राज्य की विभिन्न इकाइयों की सुप्रसिद्ध कवियत्रियों ने शिरकत की,प्रमुख इकाइयां रही हजारीबाग, पूर्वी रांची, पश्चिम रांची, चतरा, बोकारो,जमशेदपुर, रामगढ़ इकाईयां प्रतिभागियों के रूप में ,श्रीमती अमृता शर्मा,ऋचा प्रियदर्शिनी, रेणुका सिन्हा ,अर्चना अश्क मिश्रा , अनीता मिश्रा सिद्धि ,तिशु सिंह, प्रीति आनंद ,पूनम त्रिवेदी, सुशीला कुमारी ,संध्या रानी, रुणा रश्मि ‘दीप्त’ निर्मला कर्ण, सीमा पासवान ,रंजना वर्मा ‘उन्मुक्त’, पुष्पा पांडे, अंकिता सिन्हा, रेणुका झा रेणुका ,सुनीता अग्रवाल, आकांक्षा चौधरी, विम्मी प्रसाद और रेखा जैन उपस्थित रही ।
शोभा किरण ने बड़ी ही कुशलता से गोष्ठी का संचालन किया,और आ .नरेंद्र मोदी जी को शुभकामनाएं दी
अंततः धन्यवाद ज्ञापन अध्यक्षता कर रही मोना बग्गा ‘दिशा’ जी ने किया ,और अपनी शुभकामनाएं इस पावन अवसर पर मोदी जी को शब्दों के सुमन के रूप में भेजी गोष्ठी में अनेकानेक विधाओं में रचनाओं का पाठ किया गया,नरेंद्र मोदी जी द्वारा किये जा रहे देशहित के अनगिनत कार्य कवियत्रियों के लेखन की प्रेरणा बने।सबका साथ सबका विकास,नामुमकिन भी मुमकिन है, मोदी है तो मुमकिन है, इस तरह के कई स्लोगन भी कविताओं में जुड़े शब्दों के संग जुड़े गुजंते रहे आदरणीय नरेंद्र मोदी जी के जन्म दिवस के अवसर पर यह काव्य गोष्ठी उनको पूरी तरह से समर्पित रही

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

निशुल्क स्वास्थ्य शिविर

Sun Sep 18 , 2022
“स्वस्थ हम बेहतर आज और कल” भगतचंद्रा अस्पताल द्वारा 16 सितम्बर वीरवार को सागरपुर में 2026 वे स्वास्थ्य कैंप का आयोजन किया गया इस कैंप में कुल 65 पेशंट शामिल हुए | आज तक कुल 1 लाख, 37 हजार ,436पेशंट इस निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का लाभ ले चुके है .स्वास्थ्य […]

Breaking News