त किसी एक वर्ग के धरोहर नहीं :-संजय सिन्हा, चिंतक     संत रविदासजी समाज के सभी वर्गों के सर्वमान्य संत व्यक्ति थे उनकी कृष्ण भक्ति राम भक्ति से बड़े बड़े पंडित साधु एवं उनके करीबी लोग निशब्द रहते थे,संत रविदासजी कभी भी समाज के लोगों को अपना या पराया […]

अंतर्राष्ट्रीय मैत्री सम्मलेन और हिन्द शिरोमणि सम्मान समारोह-2023 भव्या फाउंडेशन का सम्मान समारोह जयपुर में संपन्न हुआ । अंतर्राष्ट्रीय मैत्री सम्मलेन और हिन्द शिरोमणि सम्मान समारोह-2023 में देश,विदेश और प्रदेश की 200 प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया, जिनमे निशक्त जन, कैंसर पीड़ित और आटिज्म वर्रिएर्स, नेत्रहीन बच्चों और बाल बसेरा […]

******* “लुंगी और गमछा में जिस व्यक्ति को आप देख रहे हैं उनका नाम पतायत साहू है।। पतायत जी को इस बार पद्मश्री पुरस्कार मिला है। पतायत जी ओडिशा के कालाहांडी जिले के रहने वाले हैं। इनके गांव का नाम नान्दोल है। पतायत जी अपने घर के पीछे 1.5 एकड़ […]

  अजय अज्ञात ग़ज़ल घर की तलाश में कभी ज़र की तलाश में ये ज़िंदगी मेरी यूं ही गुज़री तलाश में इसकी तलाश में कभी उसकी तलाश में ख़ुद से बिछड़ गया हूं मैं अपनी तलाश में बेताब था कभी मैं जिसे पाने के लिए मंज़िल भटक रही है वो […]

गुरु अंगद पब्लिक स्कूल ने अपना 40वां स्थापना दिवस बड़े उत्साह और जोश के साथ मनाया। सभी आयु वर्ग के बच्चों ने विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक और क्षेत्रीय कार्यक्रमों में भाग लिया। मुख्य अतिथि-विजय गोयल जी, पूर्व कैबिनेट मंत्री, उपाध्यक्ष, गांधी स्मृति समारोह का आनंद लिया गया। , शंकर शाहनी, […]

गणतंत्र दिवस तथा बसंत पंचमी के पावन पर्व पर ग्रामीण शिक्षा विकास को आगे बढ़ाने के लिए डायरेक्टर पुरुषोत्तम कुमार , नरेंद रोहिल्ला और मनीष सिंह द्वारा संचालित ,”सफलता का पहला कदम “फाउंडेशन द्वारा बिहार नालंदा (यमुना पुर ढकनिया ग्राम)में बच्चों के लिए बहुत ही सुंदर कार्यक्रम का आयोजन किया […]

मेरी माँ कभी सख्त तुम फौलाद की तरह बनी कभी नरम तुम मोम की तरह बनी । सहनशील तुम पृथ्वी की तरह , ममता तुम्हारी सागर की तरह ए माँ । सावली सलोनी तेरी सूरत सादगी की मिसाल बनी ।। कतरा – कतरा विष पिया तुमने सदा , ए माँ […]

लोक संस्कृति NGO द्वारा, गोपीनाथ मेमोरियल ट्रस्ट के सौजन्य से, दिनाँक 26.01.2023 को अग्रवाल धर्मशाला भिवाड़ी में माँ सरस्वती पूजा उत्सव मनाया गया, अग्रवाल महासभा के अध्यक्ष श्री मोहन गुप्ता जी मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित रहे तथा विशिष्ट अतिथियों में बाबा मोहन राम ट्रस्ट के अध्यक्ष श्री अमर […]

एकल माँ **** माँ एकल थी विकल कैसे वह सम्हाले ! बेल वंश प्रणय परिणिति हृद अंश बाहर झन्झा आलोड़ित अन्तर किस संबल, तम का — प्रतिकार करे क्यूँकर विकट विघ्न हरे जब हो सुधड परिधान में भेड़िया अंतर्ध्यान प्रछन्न रहता खंजर इनके म्यान भांप मेमने की आँत लगा लेता […]

सुरेंद्र दुबे की स्मृति में 16 कनेक्शनों को होगा भव्य काव्य महोत्सव डॉ. कीर्ति काले को दिया जाएगा श्री सुरेन्द्र दुबे स्मृति ‘गीत रत्न’ सम्मान   केकड़ी 07 अटैचमेंट जिले के विश्वविख्यात हास्य कवि एवं संवेदनशील गीतकार स्व. श्री सुरेन्द्र दुबे की तृतीय पुण्य तिथि के परिप्र्रेक्ष्य में श्री सुरेन्द्र […]

Breaking News