Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/mediapan/domains/mediapanchayat.com/public_html/wp-content/themes/default-mag/assets/libraries/breadcrumb-trail/inc/breadcrumbs.php on line 254

तस्वीर देख कर- Dr Devinder kaur

तस्वीर देख कर

   तस्वीर  में कुछ यूँ मुस्करा रहे हैं आप 
    जाने क्यों मंद मंद  मुस्करा रहे हैं आप 

    एक भोली सी मुस्कान है चेहरे पर आपके 
    यूँ  लगता है जैसे किसी से शर्मा रहे हैं आप 

     देखते रहो तो रंग बदलने लगती है तस्वीर
    कभी ऐसे लगता है यूँ  गुनगुना रहे हैं आप 

    कभी कुछ कुछ होता है तस्वीर  को देख कर 
    कभी लगता है यूँ कि मेरे पास आ रहे हैं आप 

    ये भी खूब बात है आपने ज़ज्बात  की विंदर '
   सोचो  जैसा  वैसी ही तस्वीर पा रहे हैं आप 

    Copyright @ Dr Devinder kaur

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

रूठ ना जाये कोई अपना-अंजू व रत्ती

Mon Jun 28 , 2021
रूठ ना जाये कोई अपनाबढ़ के उसे मना लेनाबिछड़ सके ना कोई तुमसे यूंअपना उसे बना लेना जीवन में सब कुछ मिल जातासच्ची प्रीत नहीं मिलतीप्रेम करे जो दिल से उसकोअपना मीत बना लेना भूल से भूल ना होने पाएऐसा कोई काम ना होमीत बना कर दिल का देखोदिल ना […]
अंजू व रत्ती